अरिजीत सिंह का जीवन परिचय | Arijit Singh Biography In Hindi

मुंबई एक ऐसी जगह है जो की छोटे शहरो से आई हुई लोगो से बनी हुई है। और खासकर आपना भाग्य आजमाने के लिए यहा पर लोग आते है। लेकिन दोस्तों जो सबसे जरुरी होता है हार्ड वर्क ये बोल युवा दिलो की धड़कन और बॉलीवुड के जाने माने सिंगर अर्जित सिंह की,जिन्होंने आपनी इस शानदार गायिकी के दम पर म्यूजिक इंडस्ट्री में आपना एक अलग ही पहचान बना लिया है।

आज के समय में भी हर डायरेक्टर के फेवरेट सिंगर बन चुके है और उनकी लोकप्रियता का अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते है की मोजुदा समय में शायद ही कोई ऐसा फिल्म आता है। जिसमे की इसका कोई गाना न हो लेकिन दोस्तों शरूआत से ही अर्जित के लिए कुछ ऐसा नहीं था। इस मुकाम पर पहुचने के लिए उन्हें दिन रात कड़ी मेहनत और लगन के साथ काम करना पड़ा।

शरूआत में कैसे भी करके गाने का मोका मिला और कोई न कोई ऐसी रूकावट आ ही गयी जिससे की इसका गाना रिलीज नहीं हो सका। और आपने खर्चो को चलाने के लिए इन्होने छोटे छोटे एडवरटाइजिंग के लिए म्यूजिक पर कंपोज़ किया। और लेकिन एक बार बॉलीवुड में कदम रखने के बाद उन्होंने कभी भी पीछे मुड़कर नहीं देखा।

और आपनी मिलोडी गाने से सभी का दिल जीत लिया,अर्जित सिंह का जन्म पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद के जियागंज में 25 अप्रैल 1987 को हुआ था। इन्होने आपनी शुरुआती पढाई राजा बिजय सिंह विद्या मंदिर से की। वैसे तो अर्जित सिंह को बचपन से म्यूजिक का काफी शोक था। पर इसी शोक की वजह से छोटी उम्र से ही ट्रेनिंग दिलवायी गयी थी।

शुरुआती समय में उन्होंने आपनी मामी और नानी साथ घर पर ही संगीत सीखे। और जब थोड़े वो बड़े हो गए तो उन्होंने हजारी भाइयो के साथ संगीत सीखना शुरु कर दी। इसमें राजेंद्र प्रसाद हजारी ने उनको इंडियन क्लासिक म्यूजिक सिखाई,वाही उनके भाई धीरेन्द्र प्रसाद हजारी ने तबला बजाना भी सिखाया।

साथ ही बिरेन्द्र प्रसाद हजारी से अर्जित ने पॉप म्यूजिक सिखा और जब वह सिर्फ़ 9 साल के थे तो उनको सरकार की और से इंडियन क्लासिकल म्यूजिक में ट्रेनिंग के स्कालरशिप भी मिली। जिसके वजह से वो महारथ हासिल करने में भी कामयाब रहे। अर्जित के अनुसार वह आपने स्कूल के समय में एक ठीक ठाक विद्यार्थी हुआ करते थे,लेकिन वो म्यूजिक को बहुत ही ज्यदा महत्व देते है।

अर्जित के करियर की शुरुवत की जाए तो उन्होंने 18 साल के उम्र में फेम गुरुकूल नाम के शो में भाग लिया। जिससे वे फाइनल पर पहुचकर छठे नम्बर पर रहे। और इसी शो के दोरान मशहूर डायरेक्टर संजय लीला भंसाली की नजर अर्जित की टेलेंट पर पड़ा और अर्जित के अन्दर टेलेंट को पहचान कर आपनी अगली फिल्म “सावरिया” की लिए उनमे यू सब्नामी गाना गया।

लेकिन बाद में स्क्रिप्ट में बदलाव होने के कारण वह गाना रिलीज नहीं हो सका। और आगे चलकर टिप्स कंपनी के हेड कुमार तोरानी ने भी अर्जित को एक एल्बम के लिए साइन किया। लेकिन यह एल्बम भी किसी कारण से रिलीज नहीं हुई,अब ये दोर था जब अर्जित सिंह को मोके तो मिल रहे थे पर किसी न किसी वजह से उनके गाने रिलीज नहीं हो पा रही थी।

हलाकि इन मुश्किल हालातो में भी अर्जित ने कभी भी हर नहीं मानी और आपने टेलेंट पर पूरा भरोसा रखा। और आगे चलकर उन्होंने एक टीबी रियलिटी शो “दस के दस ले गए दिल” में भाग लिया। और इस शो को जितने में भी वो कामयाब रहे और इस शो के जरिये जो भी पैसे मिले उन्होंने उसे 2006 में मुंबई लोखंडवाला में जाकर एक रिकॉर्डिंग स्टूडियो बनाया।

जहा पर उन्होंने म्यूजिक कंपोज़ करना भी शुरु कर दिया साथ ही वे थोड़े पैसो के लिए एडवरटाइजिंग कंपनियों के लिए म्यूजिक भी बनाया करते थे। और उन्होंने तेलगु फिल्म “केडी” के लिए नेवे ना नेवे ना के नाम से एक गाना गया था। लेकिन उनको ज्यदा प्रसिध तो नहीं मिल सकी लेकिन 2011 में वो पल आ ही गया।

जिसका की उन्हें काफी लंबे समय से इंतजार था, उन्होंने मर्डर 2 फिल्म के लिए “फिर मोहब्बत” गाने से आपना बॉलीवुड में डेब्यू किया। हलाकि यह गाना रिकॉर्ड तो 2009 में ही पूरा कर लिया गया था। और ये गाना लोगो में काफी लोकप्रियता हुआ आपने पहले ही बॉलीवुड गाना से अर्जित ने लोगो के दिलो में आपना जगह बनाना शुरु कर दिया।

और इसके बाद राजेन्द्र बिनोद की फिल्म का राबता गाना आया और वे साबित कर दिया की वे म्यूजिक इंडस्ट्री में काफी आगे जाने वाले है। और फिर 2013 में आशिकी 2 फिल्म में “तुम ही हो न” गाना गया और अर्जित सिंह का आवाज का जादू फिर से लोगो में छा गया।

यह गाना काफी दिनों तक लोगो के दिलो में राज करता रहा और इसलिए अर्जित ने कई सारे आवार्ड भी जीते। 2014 में अर्जित ने आपने बचपन की दोस्त “कोयल राय” के साथ शादी कर ली। और फिर उनके गानों का सिलसिला कभी नहीं रुका। और आगे उन्होंने कभी जो बदल बरसे,मुस्कुराने की वजह,नैना,फिर भी तुमको चाहूँगा,नशे से चढ़ गयी जैसे कई और सुपरहिट गाने भी गए।

जरूर पढ़ें: अलका याग्निक की जीवन परिचय

और फिर आगे चलकर अर्जित ने आपने म्यूजिकल करियर में ए आर रहमान और विशाल शेखर जैसे बड़े म्यूजिक कंपोजर के साथ भी काम किया। सिंगिंग के आलावा एक एन.जी.ओं “लेट देयर बी लाइट” से भी जुड़े हुए है और इसके माध्यम से गरीबो की सहायता करते है। अर्जित आज न केवल बॉलीवुड बल्कि इंडिया की हर म्यूजिक इंडस्ट्री में धमाल मचाये हुए है।

उन्होंने तेलगु,मराठी और गुजरती भाषा में भी गाना गया है और दोस्तों इसका गया हुआ हर गाना लोगो को न केवल पसंद आता है बल्कि दिलो को छु जाता है। उम्मीद करता हु की दोस्तों अर्जित सिंह क यह लाइफ स्टोरी जरुर पसंद आई होगी तो आपने दोस्तों से शेयर जरुर करे।

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने